Explore Chemistry Now

chemexplorers

what do you mean by equilibrium constant

what do you mean by equilibrium constant.संतुलन स्थिरांक एक रासायनिक प्रतिक्रिया का एक महत्वपूर्ण मापदंड है जो प्रतिक्रिया की दिशा और स्थिति का संकेत देता है। यह स्थिरांक उस बिंदु पर प्रतिक्रिया के गुणक संख्याओं का अनुपात है जहां प्रतिक्रिया में शामिल पदार्थों की सांद्रताएं स्थिर होती हैं। संतुलन स्थिरांक का मान प्रतिक्रिया के संतुलन की दिशा और माप का सूचक होता है, जो रसायनिक और भौतिक परिवर्तनों पर निर्भर करता है।

what do you mean by equilibrium constant

संतुलन स्थिरांक का अर्थ (Equilibrium Constant)

संतुलन स्थिरांक (Equilibrium Constant)

KeqK_{eq}

एक महत्वपूर्ण अवधारणा है जो किसी रासायनिक अभिक्रिया के संतुलन की स्थिति को परिभाषित करती है। इसका उपयोग यह समझने के लिए किया जाता है कि अभिक्रिया में उत्पाद और अभिक्रियकों की सांद्रताएँ संतुलन अवस्था में किस अनुपात में होती हैं।

संतुलन स्थिरांक की परिभाषा

जब कोई रासायनिक अभिक्रिया संतुलन अवस्था में होती है, तो उत्पाद और अभिक्रियकों की सांद्रताएँ समय के साथ स्थिर हो जाती हैं। इस स्थिति को संतुलन अवस्था कहते हैं और इसके लिए संतुलन स्थिरांक

KeqK_{eq}

को निम्नलिखित रूप में परिभाषित किया जाता है:

रासायनिक समीकरण:

aA+bBcC+dDaA + bB \rightleftharpoons cC + dD

संतुलन स्थिरांक

KeqK_{eq}

:

Keq=[C]c[D]d[A]a[B]bK_{eq} = \frac{{[C]^c [D]^d}}{{[A]^a [B]^b}}

जहाँ:


  • [A][A]
     

    ,

    [B][B] 

    ,

    [C][C] 

    , और

    [D][D] 

    संतुलन अवस्था में क्रमशः A, B, C, और D की सांद्रताएँ हैं।


  • a,b,c,a, b, c,
     

    और

    dd 

    स्टोइकियोमेट्रिक गुणांक हैं।

संतुलन स्थिरांक का महत्व

  1. अभिक्रिया की दिशा: संतुलन स्थिरांक यह बताता है कि संतुलन की स्थिति में उत्पादों की सांद्रता अधिक होगी या अभिक्रियकों की।
    • यदि
      KeqK_{eq}
       

      > 1 है, तो संतुलन अवस्था में उत्पादों की सांद्रता अभिक्रियकों की तुलना में अधिक होगी।

    • यदि
      KeqK_{eq}
       

      < 1 है, तो संतुलन अवस्था में अभिक्रियकों की सांद्रता उत्पादों की तुलना में अधिक होगी।

  2. अभिक्रिया की पूर्णता:
    KeqK_{eq}
     

    की मूल्य से यह भी अनुमान लगाया जा सकता है कि अभिक्रिया कितनी आगे बढ़ी है। उच्च मूल्य का

    KeqK_{eq} 

    दर्शाता है कि अभिक्रिया लगभग पूर्ण हो चुकी है और अधिकांश अभिक्रियक उत्पादों में बदल चुके हैं।

  3. तापमान का प्रभाव: संतुलन स्थिरांक का मान तापमान पर निर्भर करता है। तापमान में परिवर्तन से
    KeqK_{eq}
     

    का मान भी बदलता है, जिससे संतुलन की स्थिति प्रभावित होती है।

उदाहरण

रासायनिक समीकरण:

H2(g)+I2(g)2HI(g)H_2 (g) + I_2 (g) \rightleftharpoons 2HI (g)

मान लें कि संतुलन अवस्था में सांद्रताएँ निम्नलिखित हैं:


  • [H2]=0.1mol/L[H_2] = 0.1 \, \text{mol/L}
     


  • [I2]=0.1mol/L[I_2] = 0.1 \, \text{mol/L}
     


  • [HI]=0.2mol/L[HI] = 0.2 \, \text{mol/L}
     

संतुलन स्थिरांक

KeqK_{eq}

की गणना:

Keq=[HI]2[H2][I2]=(0.2)2(0.1)(0.1)=0.040.01=4K_{eq} = \frac{{[HI]^2}}{{[H_2][I_2]}} = \frac{{(0.2)^2}}{{(0.1)(0.1)}} = \frac{{0.04}}{{0.01}} = 4

इस उदाहरण में,

Keq=4K_{eq} = 4

दर्शाता है कि संतुलन अवस्था में उत्पाद (HI) की सांद्रता अभिक्रियकों (H_2 और I_2) की तुलना में अधिक है।

निष्कर्ष

संतुलन स्थिरांक

KeqK_{eq}

रासायनिक अभिक्रियाओं के संतुलन की स्थिति को समझने का एक महत्वपूर्ण उपकरण है। यह हमें उत्पादों और अभिक्रियकों की सांद्रताओं के अनुपात और अभिक्रिया की दिशा के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करता है।

the equilibrium constant for the reaction

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top