Explore Chemistry Now

chemexplorers

Jobes method 3 year old course

Jobes method 3 year old course.इस ब्लॉग  में बी.एससी. फाइनल इयर के रसायन शास्त्र के प्रैक्टिकल के बारे मैं हैं.इस प्रैक्टिकल में स्पेक्ट्रोफोटोमीटर का उपयोग किया जाता हैं.

Jobes method 3 year old course

जॉब्स मेथड द्वारा Fe3+और 5 सल्फो सैलिसिलिक एसिड के काम्प्लेक्स बनने का अध्ययन

Required Apparatus and materials:-

स्पेक्ट्रोफोटोमीटर,फेरिक नाइट्रेट विलयन,5 सल्फो सैलिसिलिक एसिड विलयन,HCl

Principle:-

जॉब्स मेथड में 

n=x/1-x

जहाँ n=एक मॉलिक्यूल के काम्प्लेक्स में लिगंड्स की संख्या,x=लिगंड्स के मॉल्स की संख्या,1-x=मेटल  के मॉल्स की संख्या

Procedure:-

M/100 HCl में M/100 फेरिक नाइट्रेट और M/1005 सल्फो सैलिसिलिक एसिड का विलयन तैयार करना.परखनली में फेरिक नाइट्रेट विलयन एवं 5 सल्फो सैलिसिलिक एसिड विलयन को नीचे दिए अनुसार अनुपात में मिक्स करना.

Fe3+                                       1  2  3   4     5   6    7     8     9 

5 सल्फो सैलिसिलिक एसिड   9   8  7    6   5    4    3    2   1 

(λmax) को 1 मिली Fe3+ और 20 मिली 5-सल्फोसैलिसिलिक एसिड के साथ मिश्रित घोल के स्पेक्ट्रा से प्राप्त ऑप्टिकल घनत्व बनाम तरंग दैर्ध्य के ग्राफ को प्लॉट करके निर्धारित किया जाता है।अबλmax तरंगदैर्घ्य पर, प्रत्येक विलयन का अवशोषण दर्ज किया जाता है.

observation:-

λmax  wavelength =……..nm  Jobes method 3 year old course

Solution No Volume of Metal(FeIII) Volume of Ligands(SSA) Total Volume
1 0ml 10ml 10ml
2 1 ml 9ml 10ml
3 2 ml 8ml 10ml
4 3 ml 7ml 10ml
4 4 ml 6ml 10ml
6 5 ml 5ml 10ml
7 6 ml 4ml 10ml
8 7 ml 3ml 10ml
9 8 ml 2ml 10ml
10 9 ml 1ml 10ml

गणना:-

जॉब्स मेथड द्वारा Fe3+और 5 सल्फो सैलिसिलिक एसिड के काम्प्लेक्स बनने का अध्ययन

कॉम्प्लेक्स 50% धातु आयन सांद्रता पर बनता है

परिणाम:-

जटिल धातु-लिगैंड अनुपात बनाने के लिए 1:1  है

To Determine Heat Capacity of Calorimeter

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top